खूनी ब्लॉगर (भूतिया लड़का)- हिंदी भूतिया कहानी | डरावनी

5/5 - (1 vote)

खूनी ब्लॉगर (भूतिया लड़का)- हिंदी भूतिया कहानी | डरावनी:

यह कहानी एक १३ साल की ब्लॉगर लड़के की है। जिसका नाम रोहन था। वह अक्सर कंप्यूटर रूम में ही रहता था, रोहन के मम्मी पापा उसे जब भी अपने पास बैठने को कहते, तो वह अपने कंप्यूटर रूम भाग जाता है। उसके मम्मी पापा समझ नहीं पा रहे थे, कि उसे कंप्यूटर और इंटरनेट की इतनी लत क्यों लग चुकी है। हमेशा की तरह एक रात 12 बजे रोहन लाइव स्ट्रीमिंग कर रहा होता है, और लोग उसे डिसलाइक और गालियों के कमेंट्स दे रहे थे। यह सिलसिला रात ३ः३० बजे तक चलता रहा लेकिन रोहन इसके बाद बर्दाश्त नहीं कर पाया, और लाइव स्ट्रीमिंग में ही सबके सामने फाँसी लगा ली। सभी दर्शक यह देखकर सन्न रह गए। रोहन की लाइव स्ट्रीमिंग, तेज़ी से वायरल होने लगी, और न्यूज़ चैनल्स भी उसकी पूरी स्ट्रीमिंग दिखाने लगे। पूरे इंटरनेट की दुनिया में ये वीडियो 24 घंटे में वायरल हो गया। सभी यूज़र्स इसी वीडियो की चर्चा कर रहे थे।

खूनी ब्लॉगर (भूतिया लड़का)- हिंदी भूतिया कहानी | डरावनी:
Image by Gerd Altmann from Pixabay

इस घटना के कुछ समय बीतने के बाद माहौल ठंडा हो जाता है। सभी इस हादसे को भूल जाते हैं। लेकिन अब सिलसिला शुरू होता है, मौत का। अचानक बहुत से इंटरनेट यूज़र्स की मौत होने लगती है। लेकिन किसी को पता नहीं चलता कि, इतने सारे लोग क्यूं मारे जा रहे हैं। सभी की मौत केवल एक हादसा लगती। कोई करंट लगने से मरता, तो कोई कुर्सी से गिरने से। सभी की मौत का अलग अलग कारण होता। मौत का खेल कई महीनों तक चलता रहा। इन्वेस्टिगेशन एजेंसी एवं कई देशो की पुलिस इतनी सारी मौतों से परेशान हो चुके थे। उन्हें एक बात समझ नहीं आ रही थी की सभी हादसे कंप्यूटर के ही सामने क्यों हो रहे हैं। तभी इन्वेस्टिगेशन एजेंसी को मृतकों के इंटरनेट अकाउंट चेक करने के बाद पता लगता है कि कुछ समय पहले ही इन सभी ने किसी एक ही वीडियो पर नेगेटिव कॉमेंट और गालियाँ दी थी। और वह ब्लॉगर रोहन का लाइव स्ट्रीमिंग वीडियो था। मौत का कारण तो पता चल रहा था। लेकिन यह पता नहीं चल पा था, कि कोई मरा हुआ इंसान भला कैसे, किसी को मरने के लिए मजबूर कर सकता है। तभी कंप्यूटर साइंस रिसर्च सेंटर में, यह सारा डाटा और उन सभी लोगों के कम्प्यूटर्स भी जाँच के लिए भेजे जाते हैं। वैज्ञानिक अपने शोध मे पता लगाते हैं, कि मारे गए सभी यूज़र्स के इंटरनेट फ्रीक्वेंसी में कुछ परिवर्तन हुआ है, और मरने से पहले सभी के कंप्यूटर स्क्रीन में रोहन की लाइव स्ट्रीमिंग वीडियो चल रही थी, जबकि रोहन को मरे हुए कई महीने गुज़र चुके थे।

खूनी ब्लॉगर (भूतिया लड़का)- हिंदी भूतिया कहानी | डरावनी: best story
Image by Harald Funken from Pixabay

फिर भला रोहन कैसे लाइव स्ट्रीमिंग कर सकता है। और वैज्ञानिको को यह भी पता चला कि लाइव स्ट्रीमिंग करते करते रोहन, इंटरनेट यूज़र्स को सम्मोहित करने वाला विजुअल दिखाता है। उसके बाद रोहन जो कहता है, इंटरनेट यूज़र्स उसी के अनुसार कार्य करने लगता है, और ख़ुद आत्महत्या कर लेता है। सभी को यह कारण पता चलने के बाद कुछ बचे हुए यूज़र्स की खोज की जाती है, और उन्हें कई वर्षों तक कम्प्यूटर से दूर रखा जाता है। कई वर्षों के बाद सभी रोहन को भूल जाते हैं। सभी को लगता है रोहन ने अपना बदला ले लिया और अब रोहन की आत्मा को शांति मिल जाएगी। तभी एक और यूज़र अपने सर में गोली मार देता है, और कहानी ख़त्म हो जाती है।

Click for मोटिवेशनल गुरु – शिक्षकों के लिए प्रेरणादायक कहानी

Click for किसी की आहट (kisi ki aahat)- Hindi horror story
Click for मेरी बहू (Meri bahu)- Bhoot ki kahani in hindi

 

Leave a Comment